Showing posts with label करिश्मा कपूर. Show all posts
Showing posts with label करिश्मा कपूर. Show all posts

आखिर पूरी हुई करिश्मा की तमन्ना



करिश्मा कपूर की तमन्ना पूरी होने जा रही है ओनीर की अगली फिल्म 'यू एंड आई' से। खुद कमाने वाली हर औरत की तमन्ना होती है कि वो परिवार को संभालने के बाद एक बार फिर से अपने काम पर लौटे, जिससे उसकी पहचान थी। जिससे उसको गर्व महसूस होता है, जिससे वो आत्मनिर्भर बनती है।

अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने संजय कपूर के साथ शादी करने के बाद फिल्मों में काम करना बंद कर दिया था, और अपना पूरा ध्यान परिवार की देखरेख में लगा लिया था, जैसा कि जया बच्चन, श्रीदेवी, माधुरी दीक्षित, काजोल, जूही चावला, सोनाली बेंद्रे,जैसी कई और अभिनेत्रियों ने किया। करिश्मा कपूर की समकालीन अभिनेत्रियों में से माधुरी दीक्षित, काजोल और जूही चावला ने तो वापसी कर ली, लेकिन करिश्मा कपूर पिछले एक दो साल से बस एक अच्छी कहानी की तलाश में थी, जैसे कि आरके बैनर कहता है कि अच्छी कहानी मिली तो फिल्में खुद बनाएंगे। आखिर आरके बैनर को तो कोई अच्छी कहानी मिली नहीं, मगर कपूर खानदान की बेटी को ओनीर की अगली फिल्म मिल गई, इसकी कहानी अच्छी है या बुरी ये तो जानते नहीं, लेकिन कहा जा रहा है कि ये फिल्म ऑस्कर विजेता फिल्म 'लाईफ इज ब्यूटीफुल' से प्रेरित है।

करिश्मा की वापसी कैसी होगी? इसके बारे में भी कह पाना बहुत मुश्किल है, क्योंकि बड़े पर्दे पर नई अभिनेत्रियों का राज हो रहा है, ऐसे में उनको टक्कर देने के लिए बहुत कुछ चाहिए। याद रहे कि इन नई अभिनेत्रियों में उनकी बहन करीना कपूर भी शामिल है, जिसको निर्देशकों ने साईन तो कर लिया, लेकिन जीरो फिगर से लेकर बिकनी पहनने के बाद भी उनकी फिल्में नहीं चली, जबकि कैटरीना कैफ सीधे और सिम्पल रोल करने के बाद भी निरंतर सफलता बटोरती जा रही है। यहां पर भी किस्मत की जरूरत पड़ती है, ऐसे में तो ज्यादा जब आप किसी बड़े बैनर के तले काम न कर रहें हों। गौरतलब है कि काजोल और माधुरी ने यशराज फिल्म्स बैनर की फिल्मों से वापसी की, लेकिन वापसी का फायदा केवल काजोल को मिला, माधुरी को तो फिर से प्रदेस जाना पड़ा। ऐसे ही बहुत सी अभिनेत्रियां हैं, जिन्होंने बहुत यत्न किए, लेकिन दर्शकों ने भाव नहीं दिया, इनमें विशेष रूप से सौदागर गर्ल 'मनीषा कोईराला', गदर गर्ल 'अमीषा पटेल' और रंगीला गर्ल 'उर्मिला मातोंडकर' शामिल हैं।

करिश्मा कपूर की समकालीन अभिनेत्री जूही चावला ने वक्त की नब्ज को समझा, और उम्र के हिसाब से रोल करने शुरू कर दिए, जबकि करिश्मा कपूर की पिछले कुछ सालों से तमन्ना रही है, वो ही राजस्थानी हिन्दुस्तानी वाले लीड रोल करने की, लेकिन करिश्मा भूल गई कि बॉलीवुड बदल चुका है, वहां पर लोकप्रियता देखकर पैसा फेंका जाता है। वहां फिल्में नहीं, प्रोडेक्ट बनते हैं, जो बहुत महंगे होते हैं, बिकते तो बिकते,  नहीं बिकते तो डिब्बा बंद वापिस होते हैं। करिश्मा को आखिर समझ आ गया कि अब वो करीना कपूर नहीं, इसलिए तो उन्होंने ओनीर की फिल्म झटपट साईन कर ली, जिसमें में उनके सामने होंगे संजय सूरी। डरो मत करिश्मा! सब चलता है, अगर तुम्हारी किस्मत चमक गई तो फिर से गोविंदा तुम्हारे साथ होगा, जिसके साथ जवान अभिनेत्री काम करने से मना कर रही हैं। बेस्ट ऑफ लक