प्रकाश झा का 'चक्रव्‍यूह'

प्रकाश झा की अगली फिल्‍म 'चक्रव्‍यूह- ए वार यू कैननोट इस्‍केप' 24 अक्‍टूबर को रुपहले पर्दे पर नजर आएगी, जिसका प्रमोशन 16 अगस्‍त से शुरू हो गया। प्रकाश झा की फिल्‍में समस्‍याओं पर आधारित होती हैं या कहें लकीर से हटकर। प्रकाश झा की फिल्‍म चक्रव्‍यूह की स्‍टार कास्‍ट देखकर लगता है कि प्रकाश झा, इस बार सिनेमा की खिड़की पर जोरदार हल्‍ला बोलने वाले हैं। गैंगस ऑफ वासेपुर व पान सिंह तोमर को मिले रिस्‍पांस के बाद चक्रव्‍यूह जैसी फिल्‍म को बॉक्‍स ऑफिस पर सफलता मिलने की पूरी पूरी उम्‍मीद है।

16 अगस्‍त को जारी किए गए चक्रव्‍यूह के पोस्‍टर बयान करते हैं कि फिल्‍म बनाते हुए काफी ध्‍यान रखा गया है। सबसे पहले ऐसे संवेदनशील मुद्दों के लिए गम्‍भीर कलाकारों की जरूरत होती है, जो प्रकाश झा ने अभय दिओल, मनोज वाजपेयी, रामपाल, ओमपुरी को चुनकर पूरी की, क्‍यूंकि ऐसे मुद्दों पर सुपर स्‍टारों को जबरदस्‍ती नहीं धकेला जा सकता।


प्रकाश झा की पहली च्‍वॉइस मनोज वाजपेयी अपने आप में उम्‍दा कलाकार हैं, उनके अभिनय पर कभी शक नहीं किया जा सकता। अभय दिओल की बात की जाए तो उन्‍होंने हमेशा ऑफ बीट एवं कम बजट की फिल्‍मों में भी अपना बेहतरीन अभिनय दिया है। अभय दिओल बड़े सितारों की भीड़ में भी अपने काम से, अपने अभिनय से अपनी भूमिका को जीवंत कर देते हैं।

अर्जुन रामपाल ने भले ही शुरूआत मॉडलिंग के क्षेत्र से की हो, मगर वो समय के साथ साथ अभिनय की बारीकियां सीखते चले गए। तभी तो प्रकाश झा की राजनीति के बाद उनकी अगली फिल्‍म चक्रव्‍यूह में वो जगह बना पाए।

रंगमंच से रुपहले पर्दे तक का सफर तय करने वाले ओम पुरी एक बेहतरीन एक्‍टर हैं, जो किसी भी किरदार में ढल जाते हैं। उन्‍होंने अपने इतने लम्‍बे फिल्‍मी कैरियर में हर तरह की भूमिका को पूरी शिद्दत से निभाया है। उम्‍मीद है कि इस बार भी वो दर्शकों को निराशा नहीं करेंगे।

उम्‍मीद है कि प्रकाश झा का चक्रव्‍यूह अभय दिओल, मनोज वाजपेयी एवं अर्जुन रामपाल जैसे उम्‍दा अभिनेताओं के लिए मील का पत्‍थर सिद्ध होगी। इस फिल्‍म में अर्जुन रामपाल पुलिस अधिकारी, अभय दिओल पुलिस मुखबिर और मनोज वाजपेयी नक्‍सली नेता बने हैं।

Popular posts from this blog

वो रुका नहीं, झुका नहीं, और बन गया अत्ताउल्‍ला खान

आज तक टीवी एंकरिंग सर्टिफिकेट कोर्स, सिर्फ 3950 रुपए में

'XXX' से घातक है 'PPP'

विश्‍व की सबसे बड़ी दस कंपनियां

पेंटी, बरा और सोच

सावधान। एमएलएम बिजनस से

मां और पत्नी के बीच अंतर